शिक्षक हैरान, पढ़ाने के अलावा प्रशिक्षण समेत कर रहे कई काम:- साथ ही शिक्षकों को जून तक 16 ऑनलाइन प्रशिक्षणों को भी है पूरा करना

 शिक्षक हैरान, पढ़ाने के अलावा प्रशिक्षण समेत कर रहे कई काम:- साथ ही शिक्षकों को जून तक 16 ऑनलाइन प्रशिक्षणों को भी है पूरा करना

पंचायत चुनाव में ड्यूटी, स्कूल में ऑपरेशन कायाकल्प समेत नामांकन... गर्मी की छुट्टियां और अब फिर से ऑनलाइन प्रशिक्षण। बेसिक शिक्षा के सरकारी स्कूलों के शिक्षक हैरान हैं कि वे इतना सब कुछ एक साथ कैसे करें? शिक्षकों को जून तक 16 ऑनलाइन प्रशिक्षणों को पूरा करना है।


शिक्षकों की ड्यूटी पंचायत चुनाव में भी लगी है और 20 मई से स्कूलों में गर्मी की छुट्टियां शुरू हो जाएंगी। ज्यादातर जिलों में अवकाश रद्द कर दिए गए हैं। ललितपुर में तो शिक्षिकाओं के बाल्य देखरेख अवकाश और चिकित्सा अवकाश को भी 30 मई तक रद्द करते हुए इयूटी पर वापस लौटने का आदेश जारी किया गया है। आदेश में कहा गया है कि चिकित्सकीय आधार पर केवल उन्हें छुट्टी दी जाएगी जो जिलाधिकारी द्वारा गठित कमेटी के परीक्षण में स्वीकृत किया जाएगा। कई अन्य जिलों में भी छुट्टियां रद्द की गई है। इससे शिक्षकों में रोष है।

पिछले वर्ष भी गर्मी की छुट्टियों में कोरोना संक्रमण में आइसोलेशन सेंटर व स्क्रीनिंग आदि में शिक्षकों को ड्यूटी करनी पड़ी थी। साथ ही उन्हें ऑनलाइन कक्षाएं भी लेनी थी। इसी के साथ दर्जनों ऑनलाइन कोर्स
भी करवाए गए। कानपुर की एक शिक्षिका नाम न छापने की शर्त पर कहती हैं कि हमने कई कोर्स किए हैं लेकिन बच्चे स्कूलों में आए नहीं, तो उनका प्रैक्टिकल तो हो नहीं पाया और अब नए कोर्स करने के लिए सूची जारी कर दी गई हैं। पंचायत चुनाव में ड्यूटी भी लगा दी है, ऐसे में हम कैसे कोर्स कर पाएंगे?

Post a comment

0 Comments