69000 शिक्षक भर्ती आर्डर विशेष पोस्ट

69000 शिक्षक भर्ती आर्डर विशेष पोस्ट

24 जुलाई जिस दिन से सुप्रीम कोर्ट में 69000 शिक्षक भर्ती का आर्डर रिजर्व हुआ और 3 दिन में लिखित सबमिशन जमा करने को कहा गया, 28 जुलाई से ही सभी लोगों ने अनुमान लगाना शुरू कर दिया

➡️ *जजमेंट कब आएगा, क्या आएगा और भर्ती कब से स्टार्ट होगी यहां तक की लोगों ने प्रतिदिन माननीय सुप्रीम कोर्ट की साइट पर लिस्ट चेक करना शुरू किया कौन माननीय जज साहब बैठ रहे है कौन जज साहब नहीं बैठ रहे हैं या भी देखना शुरू किया, लोग इतने हताश और परेशान हुए कि लोगों के अंदर सोचने समझने की शक्ति रही ही नही कुछ लोगों द्वारा विरोधियों की पोस्टों और अन्य केसों का स्टेटस दिखा कर बताया जा रहा है यह केस कितने तारीख को लगा है इसमें जज साहब बैठ रहे हैं लेकिन केस स्टेटस में मात्र दिनांक चेंज होती है बाकी कुछ नहीं*

➡️ *कोर्ट के पास रिजर्व ऑर्डर 90 दिन तक रख सकती है इस बीच इसमें कोई वकील कुछ नहीं कर सकता 90 दिन बाद वकील रिमाइंड करा सकते हैं लेकिन उससे पहले कुछ नहीं कर सकते*

#डर_का_व्यापार

➡️ *चयनित लोगों को परेशान करने के लिए विपक्षियों द्वारा माइंड गेम खेला जा रहा है* डर का व्यापार अमेरिका मे जब एक कैदी को फॉसी की सजा सुनाई गई तो वहॉ के कुछ बैज्ञानिकों ने सोचा कि क्यों न इस कैदी पर कुछ प्रयोग किया जाय ! तब कैदी को बताया गया कि हम तुम्हें फॉसी देकर नहीं परन्तु जहरीला कोबरा सांप डसाकर मारेगें !
और उसके सामने बड़ा सा जहरीला सांप ले आने के बाद कैदी की ऑखे बंद करके कुर्सी से बॉधा गया और उसको सॉप नहीं बल्कि दो सेफ्टी पिन्स चुभाई गई !
और क्या हुआ कैदी की कुछ सेकेन्ड मे ही मौत हो गई, पोस्टमार्डम के बाद पाया गया कि कैदी के शरीर मे सांप के जहर के समान ही जहर है ।
अब ये जहर कहॉ से आया जिसने उस कैदी की जान ले ली ......वो जहर उसके खुद शरीर ने ही सदमे मे उत्पन्न किया था । *हमारे हर संकल्प से #पाजिटीव एवं #निगेटीव एनर्जी उत्पन्न होती है और वो हमारे शरीर मे उस अनुसार hormones उत्पन्न करती है* ।

75% डिप्रेशन का मूल कारण नकारात्मक सोंच से उत्पन्न ऊर्जा ही है ।

➡️ *आज इंसान ही अपनी गलत सोंच से भस्मासुर बन खुद का विनाश कर रहा है अपनी सोंच सदैव सकारात्मक रखें और खुश रहें*

➡️ *जब तक आप स्वयं परेशान नहीं होंगे आपको कोई परेशान नहीं कर सकता 67867 चयनित में कुछ लोग स्वयं परेशान होना चाहते हैं क्योंकि उनको अपने आप पर और अपने भगवान पर भरोसा नहीं है माननीय सुप्रीम कोर्ट के जिस बेंच में आप का आर्डर रिजर्व है वह बेंच क्वालिटी एजुकेशन के लिए जानी जाती है और आपको एक बात की जानकारी और होनी चाहिए माननीय सुप्रीम कोर्ट के जजमेंट अन्य हाई कोर्ट के लिए नजीर होते हैं जिस बेंच में आपका आर्डर रिजर्व है वहां से आज तक कोई भी जजमेंट लीक नहीं हुआ परिषद का ऑफिस नहीं है सुप्रीम कोर्ट है*

➡️ *जब तक माननीय न्यायाधीश यूयू ललित जी माननीय न्यायाधीश शांतनु गौड़ा जी एक साथ नहीं बैठेंगे तब तक जजमेंट आने की कोई उम्मीद नहीं दिख रहीं*

➡️ *कल कुछ लोगों द्वारा भविष्यवाणी की जा रही थी जजमेंट क्या आएगा जजमेंट की भविष्यवाणी बाद में करना पहले इतना पता करके बता दो माननीय जस्टिस शांतनुगौड़ा जी छुट्टी से वापस कब आएंगे*

➡️ *आखिरी बात बता रहा हूं जजमेंट क्या आयेगा, कब आएगा इसकी जानकारी ना तो किसी हमारे अधिवक्ताओं को है ना ही विपक्ष के अधिवक्ताओं को इसलिए निश्चिंत रहें और धैर्य रखें*

➡️ *जजमेंट आने संबंधित अगर कोई सूचना हमारे वकीलों को प्राप्त होती है पोस्ट के माध्यम से सूचित किया जाएगा*

धन्यवाद परेशान ना हो

🔥 #हर_हर_महादेव 🔥

*विकास वर्मा*
#BTC_TEAM

Post a comment

0 Comments