अनियमित रूप से हुईं अध्यापकों की भर्तियाँ निरस्त करने का आदेश, वेतन रिकवरी के निर्देश

 अनियमित रूप से हुईं अध्यापकों की भर्तियाँ निरस्त करने का आदेश, वेतन रिकवरी के निर्देश

लखनऊ : राजधानी के अशासकीय सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों में वर्ष 2016-17 में बालिका विद्यालयों में मृत पदों पर हुई 89 अध्यापकों की भíतयों को निरस्त करने के आदेश शासन ने दिए हैं। यह भíतयां मानक के विपरीत जाकर तत्कालीन डीआइओएस द्वितीय धीरेंद्र नाथ सिंह के द्वारा की गई थीं। संयुक्त शिक्षा निदेशक षष्ठ मंडल सुरेंद्रनाथ तिवारी ने बताया कि उक्त मामले की जानकारी होने पर शासन ने जांच कराई थी।

इसके बाद धीरेंद्र नाथ सिंह समेत दो अधिकारियों और दो बाबुओं के खिलाफ कार्रवाई हुई थी। शासन ने शुक्रवार को जारी पत्र में उक्त शिक्षकों से वेतन रिकवरी के निर्देश दिए गए हैं। इस संबंध में डीआईओएस द्वितीय नंद कुमार और डीआइओएस डॉ. मुकेश कुमार सिंह से ब्योरा मांगा गया है कि गलत तरीके से नौकरी पाए शिक्षकों में से किसको कितना वेतन अब तक दिया गया है। शासन के आदेश पर परिषद ने यह आख्या मांगी है। उन्होंने बताया कि कई वर्षो से यह प्रकरण चल रहा है। कई बार मामले की जांच भी हो चुकी है। हालांकि, वर्तमान आदेश के आधार पर उन्होंने भíतयां निरस्त करने और वेतन वसूली की बात कही गई है। उसकी कार्यवाही की जा रही है।

ट्रांसफर-पोस्टिंग के नाम पर पैसे ऐंठने वाला गिरफ्तार

लखनऊ : अधिकारियों के ट्रांसफर-पोस्टिंग के नाम पर पैसे ऐंठने वाले जालसाज को एसटीएफ ने गिरफ्तार किया है। पकड़ा गया जालसाज राजनगर गाजियाबाद निवासी पीयूष अग्रवाल है। एसटीएफ को एक चैनल पर वायरल ऑडियो क्लिप के संबंध में उप्र. शासन की एक जांच के दौरान अधिकारियों के ट्रांसफर/पोस्टिंग के नाम पर लाखों की ठगी करने वाले जालसाज का सुराग मिला। आरोपित के कब्जे से फर्जी डीडी न्यूज का परिचय पत्र, आधार कार्ड, डेबिट कार्ड, एक मोबाइल, 1210 रुपये बरामद हुआ।