Header Ads

शिक्षा विभाग और पुलिस संयुक्त रूप से फर्जी शिक्षकों पर करें कार्रवाई: जिलाधिकारी विजय किरण आनंद

 शिक्षा विभाग और पुलिस संयुक्त रूप से फर्जी शिक्षकों पर करें कार्रवाई: जिलाधिकारी विजय किरण आनंद

जिलाधिकारी विजय किरण आनंद ने फर्जी शिक्षकों को लेकर शिक्षा विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की। उन्होंने अब तक हुए फर्जी शिक्षकों पर कार्रवाई की रिपोर्ट मांगी। साथ ही शेष बचे फर्जी शिक्षकों की सूची तैयार कराकर जल्द से जल्द कार्रवाई का निर्देश दिया। जिलाधिकारी शिक्षा विभाग के बीईओ को निर्देश दिया कि वह अब तक जितने भी फर्जी शिक्षकों पर कार्रवाई करते हुए मुकदमा दर्ज कराया है। इसका पता लगाए कि उन पर चार्जशीट दाखिल हुई की नहीं। पता लगाकर पुलिस का सहयोग लेकर कार्रवाई कराए। साथ ही उनकी गिरफ्तारी तक मानीटरिंग करें।


जिलाधिकारी ने बैठक में मौजूद पुलिस विभाग के अधिकारियों से कहा कि वह अपने स्तर से भी थानाध्यक्षों को निर्देशित करें कि अब जिन फर्जी शिक्षकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज होकर चार्जशीट दाखिल हो चुकी है। उनकी गिरफ्तारी हुई की नहीं अगर नहीं हुई है तो तत्काल उनकी गिरफ्तारी कराएं। डीएम ने बीईओ से कहा कि जल्द ही प्रशासन की तरफ से 14 बिन्दुओं पर एक प्रोफार्मा जारी की जाएगी। जिस पर फर्जी शिक्षकों की जांच करते हुए उन पर कार्रवाई की जाएगी। यह प्रोफार्मा बेसिक शिक्षाधिकारी के पास भेज दिया जाएगा।

अब तक 84 फर्जी शिक्षकों पर हुई है कार्रवाई

बेसिक शिक्षा विभाग की तरफ से अब तक जिले 84 फर्जी शिक्षकों को बर्खास्त करते हुए उनके उपर कार्रवाई की जा चुकी है। साथ ही सभी पर मुकदमा भी दर्ज कराया जा चुका है। अब इनकी गिरफ्तारी हुई है कि नहीं यह अभी शिक्षा विभाग को नहीं मालूम है। उम्मीद है कि इस बैठक के बाद फर्जी शिक्षकों पर कार्रवाई में और तेजी आएगी।

छह और फर्जी शिक्षको पर होनी है कार्रवाई

बेसिक शिक्षा विभाग के अनुसार अभी छह और फर्जी शिक्षकों पर जांच चल रही है। सभी की जांच रिपोर्ट करीब-करीब पूरी हो चुकी है। एक-दो और कागजात की जांच या रिपोर्ट मिलते ही कार्रवाई करके मुकदमा दर्ज करा दिया जाएगा। यह फर्जी शिक्षक कैम्पियरगंज, भटहट, कौड़िराम, पिपराइच और ब्रम्हपुर ब्लाक में स्थित स्कूल के हैं।

No comments