Header Ads

नवाचारी शिक्षकों के लिए खुशखबरी: सरकारी विद्यालयों में टेबलेट वितरण जल्द, शिक्षकों का नहीं चलेगा बहाना, टैब से उपस्थिति दर्ज करने की प्रक्रिया

 नवाचारी शिक्षकों के लिए खुशखबरी: सरकारी विद्यालयों में टेबलेट वितरण जल्द, शिक्षकों का नहीं चलेगा बहाना, टैब से उपस्थिति दर्ज करने की प्रक्रिया

बेसिक शिक्षा परिषद की ओर से संचालित प्राथमिक और जूनियर विद्यालयों में टैब का वितरण दिसंबर से शुरू हो जायेगा। टैब मिलते ही शिक्षकों की उपस्थिति भी ऑनलाइन दर्ज की जायेगी। कहीं कोरोना काल में विद्यालयों में बच्चों को भी बुलाये जाने का विचार शुरू हो गया है। इस संबंध में अधिकारियों ने बताया कि विद्यालय खोले जाने के लिए 15 अक्टूबर के बाद निर्णय लिया जायेगा। 



अधिकारियों के मुताबिक दिसंबर से टैब वितरण प्रक्रिया शुरू हो जायेगी। इसी टैब में ऐप के माध्यम से शिक्षकों की उपस्थिति दर्ज की जायेगी। ऐसे में शिक्षकों को विद्यायल भी समय से पहुंचना होगा। जो शिक्षक समय से नहीं पहुंचेंगे वह कार्रवाई के भागीदार होंगे। टैब पर उपस्थिति के लिए ऐप पर उपस्थिति दर्ज कराने के लिए सभी शिक्षकों का नाम उसमें फीड किया जायेगा। इस टैब की जिम्मेदारी विधालय के प्रधानाचार्य की है। यदि कभी प्रधानाचार्य अवकाश लेता है तो विद्यालय में उससे जूनियर शिक्षक की जिम्मेदारी तय होगी वह टैब के माध्यम से अन्य शिक्षकों की उपिस्थिति दर्ज कराये।

शिक्षकों का गहीं चलेगा बहाना
 टैब से उपस्थिति दर्ज करने की प्रक्रिया पूर्ण रूप से लागू होने के बाद शिक्षक तरह का बहाना नहीं कर सकेगे। जो शिक्षक समय से नहीं पहुंचेंगे उनके वेतन से कटौती की जावेगी | शिक्षकों को देर से आने के लिए ऑनलाइन स्पष्टीकरण भी देना होगा।

No comments