आगामी 17000 पदों की शिक्षक भर्ती में ईडब्ल्यूएस को ओबीसी से कम देनी होगी फीस, जल्द जारी होगा विज्ञापन

 आगामी 17000 पदों की शिक्षक भर्ती में ईडब्ल्यूएस को ओबीसी से कम देनी होगी फीस, जल्द जारी होगा विज्ञापन

प्रदेश के साढ़े चार हजार से अधिक सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों में अक्तूबर में संभावित 17 हजार प्रशिक्षित स्नातक (टीजीटी) और प्रवक्ता (पीजीटी) की भर्ती में आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (ईडब्ल्यूएस) वर्ग के अभ्यर्थियों को सामान्य व ओबीसी से कम फीस देनी होगी। उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड की ओर से शासन को भेजे गए फीस निर्धारण के प्रस्ताव को मंजूरी मिल गई है। नई भर्ती में ईडब्ल्यूएस वर्ग के अभ्यर्थियों को टीजीटी व पीजीटी के लिए क्रमश: 400 और 600 रुपये फीस देनी होगी।


जबकि सामान्य व ओबीसी वर्ग के अभ्यर्थियों को इन दोनों पदों के लिए एकसमान रूप से 700 रुपये आवेदन शुल्क देना होगा। अनुसूचित जाति के आवेदकों से 600 और अनुसूचित जनजाति के अभ्यर्थियों से 200 रुपये फीस ली जाएगी। दिव्यांगजन अभ्यर्थियों से आधा शुल्क लिया जाएगा। विशेष सचिव जय शंकर दुबे की ओर से 21 अगस्त को चयन बोर्ड को भेजे आदेश में ईडब्ल्यूएस की फीस को मंजूरी दी गई है। गौरतलब है कि चयन बोर्ड चार साल बाद शिक्षक भर्ती के लिए आवेदन लेने जा रहा है और पहली बार ईडब्ल्यूएस वर्ग के अभ्यर्थियों को 10 प्रतिशत आरक्षण का लाभ मिलेगा। इस बार 10 लाख से अधिक अभ्यर्थियों के आवेदन का अनुमान लगाया जा रहा है।

प्रधानाचार्य पद की भर्ती में नहीं मिलेगी छूट
ईडब्ल्यूएस अभ्यर्थियों को संस्था प्रधान (प्रधानाचार्य) पद के आवेदन के लिए फीस में छूट नहीं मिलेगी। सामान्य, ओबीसी और ईडब्ल्यूएस वर्ग के आवेदकों को प्रधानाचार्य भर्ती के लिए 1200-1200, एससी 600 व एसटी को 300 रुपये शुल्क देना होगा।

Post a comment

0 Comments