अधर में लटके एलटी ग्रेड शिक्षकों के तीन हजार से अधिक रिक्त पद

अधर में लटके एलटी ग्रेड शिक्षकों के तीन हजार से अधिक रिक्त पद

उप्र लोकसेवा आयोग एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती परीक्षा 2018 के 13 विषयों का रिजल्ट घोषित कर चुका है। पेपर लीक प्रकरण में फंसने के कारण हिंदी व सामाजिक विज्ञान विषय का रिजल्ट अभी रुका है। आयोग ने जिन 13 विषयों के 7481 पदों का रिजल्ट जारी किया है, जिसमें 4244 अभ्यर्थी ही सफल हुए।

उन सारे विषयों में 3237 पद खाली हैं। खाली पदों को भरने के लिए नए सिरे से विज्ञापन जारी करके लिखित परीक्षा करानी होगी। लेकिन, आयोग अभी उस दिशा में कोई कार्रवाई नहीं कर रहा है। ऐसी स्थिति में खाली पद जल्द भरेंगे उसकी उम्मीद कम है। यूपीपीएससी को पहली बार एलटी ग्रेड की भर्ती लिखित परीक्षा के आधार पर कराने की जिम्मेदारी दी गई। आयोग ने 29 जुलाई 2018 को 15 विषयों की लिखित परीक्षा कराई थी। परीक्षा के दिन वाराणसी में हंिदूी व सामाजिक विज्ञान विषय का पेपर लीक हो गया। वाराणसी एसटीएफ ने मामले की जांच शुरू की और आयोग की तत्कालीन परीक्षा नियंत्रक डॉ. अंजू कटियार, प्रिंटिंग प्रेस के डायरेक्टर सहित कुछ अभ्यर्थियों को गिरफ्तार कर लिया। बाद में कोर्ट से डॉ. अंजू को जमानत मिल गई। इधर, खाली पदों को भरने की मांग भी उठने लगी है। मौजूदा समय उत्तर प्रदेश लोकसेवा आयोग के पास पहले से काफी परीक्षाएं कराने व लंबित रिजल्ट को जारी करने का दबाव है। इससे वह एलटी ग्रेड के खाली पदों को भरने में कोई रुचि नहीं ले रहा है।

किस विषय में कितने पद खाली : एलटी ग्रेड शिक्षक भर्ती परीक्षा 2018 में खाली पदों की संख्या काफी अधिक है। इसमें अंग्रेजी में एक, गणित में 600, विज्ञान में 961, कला में दो, कंप्यूटर में 1637, उर्दू में आठ, शारीरिक शिक्षा में 28 पद खाली हैं।