Coronavirus: दुनिया को कोरोना देकर खुद समुद्र में अपनी ताकत बढ़ा रहा चीन

Coronavirus: दुनिया को कोरोना देकर खुद समुद्र में अपनी ताकत बढ़ा रहा चीन

दुनिया जहां चीन से फैले कोरोना वायरस से युद्ध लड़ रही है, वहीं बीजिंग इस वैश्विक संकट का फायदा अपने मुनाफे के लिए कर रहा है।  रिपोर्ट के मुताबिक, चीन ने पिछले कुछ दिनों में सैन्य अभ्यास से जुड़ी गतिविधियां बढ़ा दी हैं और समुद्री क्षेत्र में बड़े पैमाने पर सैन्य साजोसामान तैनात किया है।
मनीला के अकादमिक रिचर्ड जावेद हेयडेर्यिन ने एशिया टाइम्स में लिखा है कि बीजिंग ने महामारी के लिए खुद को जिम्मेदार होने से बचाने के लिए कहानी गढ़ी कि कोरोना वायरस चीन में अमेरिकी सेना ने फैलाया। शीर्ष चीनी अधिकारियों ने खुद यह विचित्र सुझाव सरकार को दिया ताकि चीन अपनी जिम्मेदारियों से बच सके।

कोरोना संकट काल में बीजिंग दक्षिण चीन सागर में अपने रणनीतिक और आर्थिक फायदों का विस्तार करने के लिए आगे बढ़ रहा है। चीन के प्राकृतिक संसाधन मंत्रालय के अनुसार, बीजिंग ने हाल में उत्तरी समुद्री क्षेत्र में एक ही दिन में मात्रा और उत्पादन दोनों मामलों में गैस हाइड्रेट से प्राकृतिक गैस का सफल निष्कर्षण किया।

चीन ने यह कार्य ऐसे समय में किया जब वैश्विक ताकतें कोरोना वायरस से निपटने के लिए युद्धस्तर पर काम कर रही हैं। दुनियाभर की सेनाएं कोरोना के खिलाफ सड़कों पर उतरी हुई है।

दुनिया को हुए नुकसान का भुगतान करे चीन...

इंटरनेशनल काउंसिल ऑफ ज्यूरिस्ट्स (आईसीजे) ने संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद से कोरोना वायरस को लेकर चीन के खिलाफ कार्रवाई करने का आग्रह किया। इसमें मांग की गई है कि चीन को पूरी दुनिया को हुई क्षति का भुगतान करने के लिए निर्देशित किया जाना चाहिए।  आईसीजे ने कहा कि चीन ने दुनियाभर में घातक वायरस फैलाकर गंभीर अपराध किया है।
CoronaVirus