Breaking News

68500 Vacancy News LT 9342 News Shikshamitra News
Join Facebook Group Teacher Jobs Transfer News

Search This Blog

टेट (TET)-वैधता: जानिए किस बैच की टीईटी परीक्षा होगी वैध और किसकी होगी अवैध

टेट (TET)-वैधता: जानिए किस बैच की टीईटी परीक्षा होगी वैध और किसकी होगी अवैध

*🔥टेट-वैधता*
*🏹टेट(शिक्षक पात्रता परीक्षा) का सृजन कहा से हुआ मतलब क्या है इस परीक्षा का?????*
_NCTE ने RTE एक्ट-2009 के तहत एक दिशानिर्देश दिनाँक 11/फरवरी/2011 को जारी किया जिसके अनुसार_ *टेट परीक्षा का सृजन हुआ* _टेट परीक्षा पास करने वाला अभ्यर्थी ही भारत के किसी राज्य में शिक्षक बनने के लिए होने वाली प्रक्रिया में प्रतिभाग कर सकता है।_
*🏹टेट(शिक्षक पात्रता परीक्षा) में सम्मिलित होने की न्यूनतम अहर्ता क्या है।*
_NCTE के 11/फरवरी/2011 को जारी अधिसूचना के अनुसार वे अभ्यर्थी इस परीक्षा में प्रतिभाग कर सकते है जो--_
*१-NCTE से मान्यता प्राप्त संस्थान से बीएड,बीटीसी,या समकक्ष योग्यता पास हो।*
                *_अथवा_*
*२-NCTE के गाइडलाइन 23/अगस्त/2010 के अनुसार वे अभ्यर्थी भी प्रतिभाग कर सकते है जो उपरोक्त परीक्षा के अंतिम वर्ष में अध्यनरत हो*
_(बशर्ते ये शर्त थी की अभ्यर्थी के बी टी सी या बीएड या समकक्ष  परीक्षा का परीक्षाफल टेट परीक्षाफल से पहले आ जाये मतलब बी टी सी करने वाले अभ्यर्थी की द्वीतीय वर्ष(चतुर्थ सेमेस्टर) का परीक्षाफल एवम बीएड का परीक्षाफल(द्वीतीय सेमेस्टर का) टेट के रिजल्ट से पहले आ गया हो।_
*☝✍उपरोक्त स्थिति में कई जगह विवाद रहा लेकिन जस्टिस दिलीप गुप्ता के ऑर्डर ने स्पष्ट कर दिया की अंतिम वर्ष में अध्यनरत विद्यार्थी ही वैध है इस परीक्षा के लिए और उन्होंने उक्त के संबंध में आदेश जारी किया है कि ऐसे शिक्षकों को बाहर किया जाये जो उपरोक्त योग्यता रखते हुए नहीं पास हुए है।*
*_उ प्र का सहारनपुर जनपद ऐसा पहला जिला बन गया जहाँ के बेसिक शिक्षा अधिकारी ने वर्तमान गतिमान भर्ती 12460 में उपरोकत आदेश को जारी करते हुए।बी टी सी-प्रथम एवम द्वीतिय सेमेस्टर में अध्यनरत रहते हुए टेट पास प्रशिक्षुओं को कॉउंसलिंग प्रक्रिया से बाहर कर दिया।इस बात से हाइकोर्ट के आर्डर को इसी बात से समझा जा सकता है कि बी टी सी प्रथम एवम द्वीतीय सेमेस्टर में पास की गयी टेट परीक्षा वैध नहीं है।*
*◆◆◆बी टी सी-2014 बैच-टेट-2016◆◆◆*
वर्तमान समय में 68500 शिक्षक भर्ती गतिमान है ऐसे में सबसे ज्यादा विवादों में बी टी सी 2014 बैच के छात्र है।वो खुद समझ नहीं पा रहे की हम वैध है(जिन्होंने 2016 टेट पास किया है।) या नहीं। बी टी सी 2014 के टेट 2016 के विज्ञापन तक घटनाक्रम के आधार पे खुद ही निष्कर्ष निकालिये की हमारा टेट-2016(बी टी सी-2014 बैच हेतु) वैध है या नहीं।
*🏹✍उ• प्र• शिक्षक पात्रता परीक्षा-2016 का विज्ञापन आया 03/अक्टूबर/2016 को*
*🏹✍टेट-2016 के आवेदन 05/अक्टूबर/2016 से 24/अक्टूबर/2016 तक लिए गए।*
*🏹✍बी टी सी-2014 बैच द्वीतीय सेमेस्टर की परीक्षा प्रारम्भ हुई 20/अक्टूबर/2016, 22/अक्टूबर/2016 से 23/अक्टूबर/2016 तक।*
*_☝उपरोक्त तीन बिन्दुओ को एक साथ कर के देखा जाये तो 03/अक्टूबर/2016 को जारी विज्ञप्ति के अनुसार वही प्रशिक्षु आवेदन कर सकता है जिसने NCTE गाइडलाइन  11/फरवरी/2011 को जारी समस्त शैक्षिक योग्यताएं(न्यूनतम योग्यता क्या चाहिए ऊपर दर्शाया गया है।) 03/10/2016 तक रखता हो।_*
*जानते है क्या बी टी सी-2014 बैच उस समय तक समस्त शैक्षिक योग्यता रखता है।इस परीक्षा में बैठने के लिये....*
*🏹बी टी सी-2014 बैच टेट-2016 के लिए जारी विज्ञप्ति के समय द्वीतीय वर्ष में अध्यनरत था?????*
_✍ नहीं बी टी सी-2014 की द्वीतीय सेमेस्टर तक की परीक्षा नहीं हुई थी उस समय तक सिर्फ प्रथम वर्ष का प्रथम सेमेस्टर पास था बी टी सी-2014_
*🏹आवेदन की अंतिम तारीख तक बी टी सी-2014 बैच वैध था आवेदन के लिए।*
_✍यू पी टेट-2016 का आवेदन 24 अक्टूबर 2016 तक ऑनलाइन माध्यम से लिया गया।और बी टी सी-2014 बैच उस समय तक अपने प्रथम वर्ष के गतिमान द्वीतीय वर्ष की परीक्षा दे रहे थे जो आवेदन तिथि से 1 दिन पहले दिनाक 23/अक्टूबर/2016 को समाप्त हुई।_
*निष्कर्ष:-अगर पुरे घटनाक्रम को एक साथ देखा जाये तो इस निष्कर्ष पे पंहुचा जा सकता है कि टेट-परीक्षा में सिर्फ वे प्रतिभागी ही प्रतिभाग कर सकते है जो  जारी होने के समय बी टी सी पास हो या गतिमान बी टी सी-प्रशिक्षण के अंतिम वर्ष(द्वीतीय सेमेस्टर पास या तृतीय सेमेस्टर या चतुर्थ सेमेस्टर में अध्यनरत हो।*
*📌16460 उ• प्र• शिक्षक भर्ती में इलाहबाद हाइकोर्ट ने एक आदेश पारित करते हुए न्यूनतम शैक्षिक अहर्ता को परिभाषित किया था।कि.....*
_विज्ञप्ति जारी होने के दिनाँक को समस्त शैक्षिक योग्यता पूरी होनी चाहिए और ऐसे में बी टी सी-2013 बैच के अभ्यर्थी को इस भर्ती से बाहर होना पड़ा था।_
*✍आप लोग के सामने सारे तथ्य है स्वयं आकलन कर लीजिए की किसका मान्य है किसका नहीं है।*

बेसिक शिक्षा विभाग की समस्त खबरों की फ़ास्ट अपडेट के लिए आज ही लाइक करें प्राइमरी का मास्टर Facebook Page